डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं

  • डिजिटल मार्केटिंग का परिचय ?
  • डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं ? 
  • डिजिटल मर्केटिंग का इतिहास ?
  • डिजिटल मार्केटिंग कंसल्‍टेंट/सोशल मीडिया मैनेजर
  • सोशल मीडिया एग्‍जीक्‍यूटिव
  • ग्राफिक डिजाइनर्स/वीडियो एडिटर्स
  • कंटेंट क्रिएटर्स
  • आवश्यक स्किल्‍स
  • कोर्स एवं योग्‍यताए
  • आकर्षक पे पैकेज

Digital marketing क्या हैं क्यों करे कैसे करे इसके क्या फायदे हैं और डिजिटल मार्केटिंग से कितना काम सकते हैं डिजिटल मार्केटिंग मे करिअर कैसे बनाए एक डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट कैसे बने इस फील्ड मे सफलता कैसे प्राप्त करे फुल इनफार्मेशन स्टेप बाइ स्टेप 

  
https://www.earnbazar.co.in/2021/09/ what is digital marketing digital.marketing.history.in.hindi... .html

डिजिटल मार्केटिंग का परिचय ?

डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसी अनोखी मार्केटिंग हैं जिसमे जब हम किसी वस्तु या प्रोडक्टस का लेनदेन (व्यापार) डिजिटल डीवाइसेस (फोन,लैपटॉप,कंप्युटर,टैबलेट,) आदि के माध्यम से यानि की पूरी तरह इंटरनेट से जुड़ी हुई डीवाइसेस के माध्यम से करते हैं तो वह डिजिटल मार्केटिंग कहलाता हैं
यदि  हम दूसरे शब्दों मे और सरल भाषा मे जब हम किसी वस्तु (प्रोडक्टस) का व्यापार इंटरनेट के माध्यम से करते हैं तो इसे डिजिटल मार्केटिंग कहते
हैं
डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट बनिए और घर बैठे लाखों रुपये कमाए                          

डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं ?                                                 डिजिटल मार्केटिंग को हम आसान और सरल शब्दों मे (ऑनलाइन मार्केटिंग,इलेक्ट्रॉनिक मार्केटिंग तथा इंटरनेट मार्केटिंग) आदि के नाम से जानते हैं जो एक विश्वप्रसिद्ध व प्रचलित मार्केटिंग हैं डिजिटल मार्केटिंग का उपयोग हम खासकर अपने ब्रांड प्रोडक्टस को ग्राहक तक पहुचाने के लिए करते हैं

डिजिटल मार्केटिंग एक महासमंदर हैं जिसके माध्यम से हम मुस्किल से मुस्किल कामों को बड़े ही कुशलता और आसनीपूर्वक कर लेते हैं दुनिया मे आज कल डिजिटल मार्केटिंग स्पेसलिस्ट की डिमांड बहुत ही अधिक हैं

यदि आप एक अच्छे एवं कुशल डिजिटल मार्केटिंग स्पेसलिस्ट हैं तो आपको जॉब मिलने के चानसेस बहुत ही अधिक हैं डिजिटल मार्केटिंग के जानकारों के लिए आज तकरीबन हर छोटी बड़ी कंपनी में नौकरी के मौके हैं।

वैसे ऐसे लोगों के लिए अभी सबसे अधिक अवसर डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी आनलाइन शापिंग कंपनी रिटेल कंपनी और सर्विस प्रोवाइडिंग कंपनी में उपलब्‍ध* हैं। और आप यदि डिजिटल मार्केटिंग स्पेसलिस्ट हैं तो आप खुद घर बैठे बिठाए ऑनलाइन काम करके लाखों रुपये महिना कामा सकते हो और अपना खुद का व्यापार कर सकते हो

डिजिटल मार्केटिंग को ही आनलाइन मार्केटिंग या इंटरनेट मार्केटिंग भी कहते हैं। इस तरह की मार्केटिंग का मतलब है इंटरनेट मीडिया (वाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब आदि) के जरिए उत्‍पादों और सेवाओं का प्रचार-प्रसार करना। परंपरागत मार्केटिंग में

जहां बैनर, होर्डिंग, साइनबोर्ड आदि के जरिए उत्‍पाद और सेवाओं के प्रचार-प्रसार किये जाते हैं, वहीं डिजिटल मार्केटिंग में मुख्‍य रूप से गूगल सर्च, वाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर, ईमेल और वेबसाइट्स का इस्‍तेमाल किया जाता है।  असीमित संभावनाएं

माना जा रहा है कि अगले दो तीन साल में कंपनियों का डिजिटल ऐड खर्च भी बढ़कर लगभग उतना ही हो जाएगा, जितना अभी प्रिंट ऐड पर वे खर्च कर रही हैं। यही कारण है कि नौकरियों के लिहाज से भी इस फील्‍ड में असीमित संभावनाएं देखी जा रही हैं। वैसे, भी कोरोना महामारी के बाद आनलाइन गतिविधियां बढ़ने से इस तरह की मार्केटिंग पर काफी जोर दिया जा रहा है।

तकरीबन हर कंपनी के अपने आनलाइन प्‍लेटफारर्म्स, एप्‍स और वेबसाइट हैं, जिसके लिए कंपनियां अपने ब्रांड (प्रोडक्‍ट/सर्विसेज) को प्रमोट करने के लिए डिजिटल मीडिया मार्केटर, सोशल मीडिया मैनेजर जैसे पदों के लिए नियुक्तियां भी करने लगी हैं। माना जा रहा है

कि जिस तेजी से पिछले एक डेढ साल में तमाम कंपनियां आनलाइन बिजनेस में आई हैं और लगातार आ रही हैं, उससे कुशल डिजिटल मार्केटर्स की जरूरत लगातार बढ़ रही है,
 
डिजिटल मार्केटिंग के जानकारों के लिए आज तकरीबन हर छोटी बड़ी कंपनी में नौकरी के मौके हैं। वैसे, ऐसे लोगों के लिए अभी सबसे अधिक अवसर डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी, आनलाइन शापिंग कंपनी, रिटेल कंपनी और सर्विस प्रोवाइडिंग कंपनी में उपलब्‍ध हैं।

इसके अलावा, तमाम कारपोरेट कंपनियां यहां तक कि निजी स्‍कूल/कालेज कोचिंग इंस्‍टीट्यूट्स और पोटर्ल्‍स भी इस तरह के प्रोफेशनल्‍स की अपने यहां सेवाएं ले रहे हैं


डिजिटल मर्केटिंग का इतिहास ?

https://www.earnbazar.co.in/2021/09/ what is digital marketing digital.marketing.history.in.hindi... .html


डिजिटल मार्केटिंग दुनिया का सबसे बड़ा मार्केटिंग जाल हैं इसके माध्यम से किसी भी प्रोडक्टस और सर्विसेस का क्रय विक्रय बड़े ही कुशलता और आसानी पूर्वक के साथ किया जा सकता हैं डिजिटल मार्केटिंग की शुरुआत 1971 मे रेटमलिन्सन  के द्वारा किया गया था

जिसमे उन्होंने 1971 मे खुद को एक ईमेल भेज था इससे पहले और किसी ने किसी को ईमेल नहीं किया था इसीलिए इसीलिए रे टॉमलिन्सन को डिजिटल मर्केटिंग का जनक कहा जा सकता हैँ तथा इसके बाद डिजिटल मार्केटिंग को दिन प्रतिदिन अपडेट किया जाने लगा

जिससे नए नए टूल्स और तकनीक का डिजिटल मार्केटिंग मे जन्म होने लगा जिससे डिजिटल मार्केटिंग को उपयोग करना काफी हद तक आसान हो गया और आज भी डिजिटल मार्केटिंग के टूल्स और तकनीक को आसान एवं कुशल बनाने के लिए अपडेट किया जा रहा हैं

जिससे सारा संसार डिजिटल मार्केटिंग को उपयोग करने मे सक्षम हैं डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट मार्केटिंग का सबसे बड़ा महाजाल हैं जिसके माध्यम से बहुत सारे लोग घर बैठे बिठाए लाखों  रुपये बहुत ही आसानी से कामा रहे हैं

तथा पिछले कुछ वर्षों से हर तरह के कारोबार को डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आगे बढ़ाने का चलन तेजी से बढ़ा है। कोरोना काल में इसमें और उछाल आ गई है। हर तरह के उत्‍पादों और सेवाओं का इंटरनेट के माध्‍यम से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। विशेषज्ञों की मानें, तो भारत जैसी दुनिया की दूसरी विशाल आबादी वाले देश में

हर उद्योग को कुशल डिजिटल मार्केटर्स की जरूरत लगातार बढ़ रही है। कहा जा सकता है कि इस क्षेत्र में रुचि रखने वाले युवा आवश्यक कौशल सीखकर और अपडेट रहकर इस क्षेत्र में खुद को आगे बढ़ा सकते हैं...

कोरोना महामारी के बाद से बहुत सारे नये उद्योग अब डिजिटल मार्केटिंग का उपयोग कर रहे हैं, बल्कि पहले से कहीं ज्‍यादा पैसे डिजिटल मार्केटिंग और इस तरह के ऐड में निवेश कर रहे हैं। परंपरागत मार्केटिंग की तुलना में आनलाइन मार्केटिंग को काफी असरदार भी देखा जा रहा है
क्‍योंकि लोगों के बीच डिजिटल चैनल्‍स और इंटरनेट मीडिया का दखल और प्रभाव काफी बढ़ गया है। शायद ही कोई हो जो सुबह उठकर वाट्सएप या फेसबुक न देखता हो या दिन के समय इस पर एक्टिव न रहते हों। दरअसल, मार्केटिंग का मकसद ही यही होता है कि ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों तक अपने बिजनेस की जानकारी पहुंचाई जाए।

ऐसे में आफलाइन और आनलाइन मार्केटिंग साथ में किये जाने से बिजनेस में कहीं ज्यादा मुनाफा देखा जा रहा है। यही वजह है कि बड़ी संख्‍या में छोटी-बड़ी सभी तरह की कंपनियां कम समय में अपने टारगेट ग्राहकों तक पहुंचने के लिए डिजिटल मार्केटिंग में रुचि ले रही हैं।
इसीलिए हर कंपनी और उद्योग को अपने उत्पादों या सेवाओं के लिए डिजिटल मार्केटिंग के विशेषज्ञों की जरूरत पड़ रही है। इन भूमिकाओं में डिमांड

उपयुक्‍त स्किल और कुशलता हासिल करके आप इस फील्‍ड में डिजिटल मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, डिजिटल ऐड, कंटेंट मार्केटिंग, एसईओ मार्केटिंग जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों में अपनी विशेषज्ञता के अनुसार जाब तलाश सकते हैं। फिलहाल इनदिनों इस फील्‍ड में इस तरह के लोगों की बहुत डिमांड है

डिजिटल मार्केटिंग कंसल्‍टेंट/सोशल मीडिया मैनेजर

डिजिटल मार्केटिंग के अंतर्गत सोशल मीडिया मैनेजर अपनी टीम के साथ मिलकर फेसबुक, ट्विटर, इंस्‍टाग्राम,लिंक्‍डइन, वाट्सएप तथा यूट्यूब जैसे मीडियम के माध्‍यम से कंपनियों के ब्रांड के प्रचार-प्रसार का काम देखते हैं। 

हालांकि तकनीक बदलने और उन्नत होने से इनकी भूमिका में बदलाव भी आ रहा है। ऐसे लोग अब कंटेंट लिखने के साथ-साथ इंफो, ऐड तैयार करने के अलावा कंटेंट और ग्राफिक डिजाइनिंग का भी काम देखने लगे हैं। वेबसाइट और एप्‍स का ट्रैफिक मॉनीटर कर उसकी एनालिसिस जैसे काम भी यही लोग देखते हैं। इस पद पर पांच से 10 साल के अनुभवी लोग अपनी सेवाएं देते हैं।

सोशल मीडिया एग्‍जीक्‍यूटिव

सोशल मीडिया मैनेजर की तुलना में यह जूनियर पद है। शुरुआत में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करके आने वाले युवाओं को इसी पद पर ज्‍वाइनिंग मिलती है। ये प्रोफेशनल्‍स सोशल मीडिया मैनेजर्स के सहयोगी के रूप में काम करते हैं, जिनका प्रमुख कार्य सोशल साइट्स पर कंपनियों की ब्रांडिंग और मार्केटिंग के लिए वीडियो या इमेज पोस्‍ट इत्‍यादि अपलोड करना होता है।

ग्राफिक डिजाइनर्स/वीडियो एडिटर्स

डिजिटल मार्केटिंग के तहत आजकल कंटेंट के अलावा इमेज और वीडियो का भी खूब इस्‍तेमाल हो रहा है। ऐसे में इन इमेजेज को तैयार करने, इमेज पर कंटेंट की डिजाइनिंग आदि के लिए ग्राफिक्‍स डिजाइनर्स अपनी सेवाएं देते हैं। इसी तरह, वीडियो की एडिटिंग और उसे टू द प्‍वाइंट बनाने के लिए वीडियो एडिटर्स की आवश्‍यकता पड़ती है।

कंटेंट क्रिएटर्स

आनलाइन मार्केटिंग में कंटेंट का बहुत बड़ा योगदान होता है, ताकि ग्राहकों को एंगेज करके, उन्‍हें प्रभावित करके प्रोडक्‍ट या सर्विस के काल टू एक्‍शन तक ले जाया जा सके। ऐसे में इस तरह का प्रभावी कंटेंट जो लोग तैयार करते हैं, उन्‍हें कंटेंट क्रिएटर्स कहते हैं। इस प्रोफाइल के तहत काम करने के लिए जरूरी है कि आपको अच्‍छी कापी लिखनी आनी चाहिए ताकि कम शब्‍दों में रोचक/प्रभावी तरीके से किसी भी प्रोडक्‍ट या सर्विस की जानकारी लोगों तक पहुंचा सकें।

आवश्यक स्किल्‍स

जो युवा इस फील्‍ड में करियर बनाना चाहते हैं, उन्‍हें डिजिटल मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, डिजिटल ऐड, कंटेंट मार्केटिंग, एसईओ मार्केटिंग, डाटा माइनिंग जैसे विषयों को सीखना चाहिए, तभी वे इस फील्‍ड में तेजी से आगे बढ़ सकते हैं। इसलिए इसकी पढ़ाई करते समय लाइव प्रोजेक्‍ट्स से ज्यादा से ज्‍यादा सीखने की कोशिश करें,

सिर्फ थियरी पर निर्भर न रहें। इसके अलावा, अगर आपकी कम्युनिकेशन स्किल अच्‍छी है। अच्‍छा बोलना और लिखना दोनों जानते हैं, तो आप डिजिटल मार्केटिंग में बहुत आगे तक जा सकते हैं। इसलिए अपनी कम्युनिकेशन स्किल को सुधारने का भी प्रयास करें।

कोर्स एवं योग्‍यताए

किसी भी बैकग्राउंड के युवा डिजिटल मार्केटिंग की स्किल सीख कर इस फील्ड में आगे बढ़ सकते हैं। वैसे, ग्रेजुएशन के बाद डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स कर सकते हैं। अभी छह महीने से लेकर तीन साल तक के डिग्री कोर्सेज इसमें उपलब्ध हैं। ये कोर्सेज भारत के विभिन्‍न संस्‍थानों के अलावा फारेन यूनिवर्सिटीज में भी उपलब्‍ध हैं।

 फिलहाल, स्‍टूडेंट्स को सुझाव यही है कि आप वही संस्‍थान चुनें, जहां ज्‍यादा लाइव प्रोजेक्ट और वर्क एक्‍सपीरिएंस मिले। सस्ते और मुफ्त के आनलाइन कोर्सेज को चुनने से पहले सावधानी से उनके जांचें-परखें।

आकर्षक पे पैकेज

देश की हर छोटी-बड़ी कंपनी में डिजिटल मार्केटिंग में कुशल लोगों की मांग लगातार बढ़ रही है। जरूरत के मुताबिक कुशल डिजिटल मार्केटर्स नहीं हैं। यही वजह है कि ऐसे लोगों को अच्‍छे पे पैकेज भी आफर किये जा रहे हैं। अगर सैलरी की बात करें,तो

भारत में कुशलता के आधार पर डिजिटल मार्केटिंग में 25-30 हजार रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक की मासिक सैलरी आफर की जा रही है। बाहर के देशों में इससे पांच गुना ज्यादा सैलरी ऐसे प्रोफेशनल्‍स को मिल रही है।

डिजिटल मार्केटिंग में आगे बढ़ने के अवसर असीमित हैं। विभिन्‍न प्लेटफार्म्स के आ जाने से यह क्षेत्र तेजी से बढ़ रहा है। मौजूदा उद्योग और कंपनियां भी अपने व्यवसाय की डिजिटल उपस्थिति बढ़ाने की दिशा में काम कर रही हैं। ब्रांड पहले से कहीं अधिक डिजिटल मार्केटिंग पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। इसलिए इनदिनों डिजिटल मार्केटिंग स्किल काफी डिमांड में हैं।

 डिजिटल मार्केटिंग में विविध तरह के नौकरियों के विकल्‍प भी हैं, जैसे कि सर्च इंजन आप्टिमाइजेशन (एसईओ), सर्च इंजन मार्केटिंग (एसईएम), सोशल मीडिया आप्टिमाइजेशन (एसएमओ), ईमेल मार्केटिंग, कंटेंट मैनेजमेंट ऐंड क्‍यूरेशन, कापी राइटिंग, वेब डिजाइनिंग, एनालिटिक्‍स, वीडियो/आडियो प्रोडक्‍शन तथा मोबाइल मार्केटिंग इत्‍यादि।

अगर युवा अपने करियर को शुरू करने और आगे बढ़ाने के लिए इनमें से कम से कम एक या दो एरिया में भी कुशलता हासिल कर लें, तो उनकी तरक्की के अवसर काफी बढ़ जाएंगे। कई संस्थान छह से 12 महीने के डिजिटल कोर्स की पेशकश भी कर रहे हैं।

 इनमें से कई आनलाइन भी चल रहे हैं, जहां से आप आसानी से इसे सीख सकते हैं। फिलहाल, यह फील्‍ड लगातार अपडेट हो रहा है। इसलिए एक डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल के तौर पर आपको हमेशा तकनीकी बदलावों को अपनाने के लिए तैयार रहना और खुद को एक्‍सप्‍लोर करते रहना चाहिए।


कुछ महत्वपूर्ण एवं टॉप इंस्टिट्यूट जो सिखा रहे हैं डिजिटल मार्केटिंग स्किल्स

     
  • दिल्ली स्कूल आफ इंटरनेट मार्केटिंग, दिल्‍ली

     welcome to master in digital marketing


     Welcome to NIIT Delhi


      Welcome to the build your skill


      डिजिटल एकेडमी इंडिया, गुरुग्राम

         Learn a profesnal Digital marketing

      इंटरनेट ऐंड मोबाइल रिसर्च इंस्टीट्यूट, बेंगलुरु

        Become a Digital marketing expert

       अन्य पढ़े .. 

       आइआइ टी इंस्टिट्यूट सुपर 30

       फ्री मे ब्लॉग बनाए और अनलिमिटेड पैसे कमाए

      तकनीकी बदलावों को अपनाकर आगे बढ़े प्रमुख संस्‍थान

Post a Comment

Previous Post Next Post