सुपर 30 का इतिहास इन हिन्दी The History of Super 30 Institute

https://www.earnbazar.co.in/2021/09/30-30-super-30.html


आप चाहे दुनिया के किसी भी एग्जाम में 100 % भी अंक प्राप्त कर ले लेकिन फिर भी IIT का एग्जाम पास करना जरुरी है उसमे एडमिशन लेने के लिए. इसके लिए 12th का एग्जाम science मे60 % नंबर 
के साथ पास होना अनिवार्य है. इसके बिना आप IIT entrance एग्जाम में नहीं बैठ सकते हैं.
नोट  दोस्तों तो आपको यह पोस्ट पसंद आए तो इस पोस्ट को शेयर जरूर करे  

हेलो मेरे प्यारे दोस्तों आज की पोस्ट में मैं आपको भारत के सबसे अनोखे इंस्टिट्यूट के बारे में बताऊंगा  इसके बारे में आप ध्यान से पढ़ते हैं तो मैं गारंटी के साथ कह सकता हूं कि आपके लाइफ में जरूर चेंज आएंगे उस स्टूडियो का नाम Super 30 है. मेरे ख्याल से हर परिवार के लोग खासकर स्टूडेंट्स और उनके पेरेंट्स ने सुपर 30 का नाम जरूर सुना होगा. हर कोई अपनी पढाई की लाइफ के वक़्त चाहता है की अच्छे से अच्छे पढाई के संस्थान में प्रवेश मिल जाये. ये एक ऐसी संस्थान है जहाँ एडमिशन होने का मतलब है IIT का एग्जाम पक्का निकल जाएगा.

IIT में हर स्टूडेंट एडमिशन लेने के सपने देखता है. जहाँ इंजीनियरिंग की शिक्षा दी जाती है और ये भारत का सबसे प्रतिष्ठित और सरकारी कॉलेज है. जिसका full form “Indian Institute of Technology” है. हर साल IIT -JEE की परीक्षा ली जाती है जिसमे seat दी जाती है. और जो भी इस एग्जाम को पास कर जाता है उसे IIT में प्रवेश दी जाती है.

सुपर 30 इंस्टीट्यूट के संस्थापक मिस्टर आनंद कुमार सर

प्यारे दोस्तों क्या आपने 10th का एग्जाम पास कर लिया है तो अभी से आप अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए हर तरह की तैयारी कर सकते हैं

सुपर 30 बिहार राज्य की राजधानी पटना में स्थित एक बहुत ही ख़ास और अनोखा कोचिंग इंस्टिट्यूट है. I.I.T जो की भारत सरकार का सबसे बड़ा इंजीनियरिंग इंस्टिट्यूट है, उस में प्रवेश पाने के लिए तैयारी करने के लिए सुपर 30 में मुफ्त शिक्षा दी जाती है. जो शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं उन्हें मालूम है की IIT का entrance एग्जाम कितना कठिन होता है जिसे पास कर पाना ही बहुत मुश्किल होता है.

सुपर 30 पूरी दुनिया में अपनी अनोखी पहचान बना चूका है. जी हाँ आपने सही सुना पूरी दुनिया में अब इस इंस्टिट्यूट को पहचाना जाता है. मार्च 2009 में Discovery चैनल ने 1 घंटे का डाक्यूमेंट्री फिल्म का प्रसारण किया था. इस पर National Geographic Channel के द्वारा डॉक्यूमेंट्री फिल्म भी बन चुकी है और इसे पूरा वर्ल्ड भी देख चूका है.

अमेरिकी समाचार “The New york Times ” करीब आधे पेज पर सिर्फ सुपर 30 के बारे में एक लेख लिखा था. इसके अलावा पूर्व मिस जापान और अभिनेत्री नोरिका फुजिवारा जब पटना आयी थी तो उन्होंने एक सुपर 30 पर एक शार्ट फिल्म बनायीं थी. सुपर 30 को ब्ब्स के कार्यक्रम में भी शामिल किया गया था.

इसकी सफलता को वैसे तो पूरा देश जानता ही है लेकिन वर्ल्ड में प्रसिद्ध होने से ये हमारे देश को अनोखे रूप से प्रस्तुत करता है.Anand Kumar Super 30 Hindi Anand Kumar

सुपर 30 इंस्टिट्यूट की शुरुआत 2003 में हुई थी. इस इंस्टिट्यूट को शुरू करने वाले इंसान का नाम श्री Anand Kumar है. सुपर 30 इंस्टीट्यूट के संस्थापक मिस्टर आनंद कुमार सरआनंद कुमार अपना एक अलग एजुकेशनल इंस्टिट्यूट भी चलाते हैं. उनके इंस्टिट्यूट का नाम Ramanujan School of Mathematics है.

सुपर 30 के सभी बच्चो को मुफ्त शिक्षा दी जाती है और साथ ही साथ उनके रहने और खाने की सुविधा भी मुफ्त में दी जाती है. Ramanuj School of Mathematics से जो आमदनी होती है उसी के पैसे से Super30 को चलाया जाता है.

श्री आनंद कुमार ने इस इंस्टिट्यूट की शुरुआत गरीब बच्चो को IIT के लिए तैयार करने के लिए किया था. इसका कारन ये है की बहुत सारे बच्चे जो होनहार होते हुए भी पैसे के अभाव में नहीं पढ़ पाते और उनका टैलेंट खो जाता है, वैसे बच्चो को मुफ्त में पढ़ा कर वो काबिल बना सके.

श्री आनंद कुमार के कठिन परिश्रम को आज पूरी दुनिया सलाम करती है. उन्हें सुपर 30 Man और सुपर टीचर के नाम से भी पहचाना जाता है. उनकी इस उपलब्धता के कारण एस. रामानुज पुरुस्कार 2010 में, मौलाना अबुल कलाम आज़ाद शिक्षा पुरुस्कार नवंबर 2010 से सम्मानित किया गया है सुपर 30 इंस्टिट्यूट और स्टूडेंट.सुपर 30 इंस्टिट्यूट और स्टूडेंट                

इसका नाम सुपर 30 क्यों है? 

https://www.earnbazar.co.in/2021/09/30-30-super-30.htm


इसका जवाब ये है की इसमें हर साल सिर्फ 30 बच्चों को ही मुफ्त शिक्षा देने के लिए चुना जाता है. 30 बच्चे जो पढाई में तो बहुत अच्छे होते हैं और जिन में ये काबिलियत होती है की वो IIT के entrance एग्जाम निकाल सकते हैं.

सुपर 30 इसी बात के लिए बहुत ख़ास है क्यों की इसमें हर साल पुरे देश से सिर्फ 30 बच्चों को चुनती है. फिर उन्हें मुफ्त में शिक्षा एक साल के लिए दी जाती है. और वहां हर साल का रिजल्ट 100 % होता है यानि की हर साल 30 में से लगभग सभी बच्चे IIT entrance एग्जाम को पास कर जाते हैं.

बहुत सारे ऐसे बच्चे होते हैं,जिन बच्चों को पढाई में बहुत इंटरेस्ट होता है. जो पढ़ने में बहुत तेज़ भी होते है लेकिन पैसे के अभाव में पढाई नहीं कर पाते हैं. ऐसे ही बच्चों को सफलता हासिल करने के लिए सुपर 30 बहुत कठिन मेहनत कर के बच्चों को मुफ्त शिक्षा देती है.

आप सुपर 30 कोचिंग इंस्टिट्यूट का महत्व तभी समझ सकेंगे जब ये जानेंगे की IIT यानि Indian Institute of Technology क्या है ? जिसमे प्रवेश पाने के लिए स्टूडेंट्स को सुपर 30 कोचिंग सेंटर में पढ़ाया जाता हैं. तो चलिए अब जानते हैं की IIT का क्या महत्व है.

सुपर 30 के लिए एडमिशन योग्यता (Super 30 Admission Eligibility) 

जो भी स्टूडेंट गरीब परिवार से होते हैं और गरीबी के कारण पढाई नहीं कर पाते वैसे लड़को में से ही सुपर 30 अपने बच्चो का चुनाव करते हैं. सुपर 30 में एडमिशन योग्यता के तौर पर छात्र उस लायक हैं या नहीं, ये एक परीक्षा लेके देखा जाता है.

इस इंस्टिट्यूट में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स की भरी भीड़ लगी होती है हर साल.

मई और जून के महीने में हर साल ( super 30 admission eligibility ) यानि कौन सा छात्र इसमें पढ़ने लायक है ये देखा जाता है. जिसके लिए एक फॉर्म भरना होता है. और फिर Test में बच्चे बैठ कर अपना एग्जाम  देते हैं.

इसमें क्लास 11th के syllabus के आधार पर सवाल पूछे जाते हैं. जिसमे physics chemistry और math से सवाल पूछे जाते हैं. परीक्षा के रिजल्ट के आधार पर बच्चो का सिलेक्शन किया जाता है.

I.I.T क्या है और इसका क्या महत्व है? 

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानी Indian Institute of technology भारत की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग इंस्टिट्यूट है जहाँ इंजीनियरिंग की शिक्षा दी जाती है. जहाँ हर इंजीनियरिंग पढ़ने में interest रखने वाला स्टूडेंट पढाई करना चाहता है. ये एक सपना है उनके लिए जो इंजीनियरिंग करना चाहता है. स्टूडेंट्स के साथ साथ हर माँ बाप चाहते हैं की उनका बच्चा अचे से अच्छा पढाई करे. और इसी लिए वो चाहते हैं की उनके बच्चे भी IIT में पढ़े.  सुपर 30 इंस्टिट्यूट इमेज

IIT इतना प्रतिष्ठित संस्थान क्यों है? 

वैसे ये तो जरुरी नहीं की IIT से पढ़ कर निकला हुआ हर स्टूडेंट जीवन में सफल हो ही जाता है लेकिन फिर भी IIT के स्टूडेंट्स इतने सक्षम होते हैं की वो दुनिया के हर हिस्से में काम करते हैं क्यों दुनिया के हर हिस्से से कंपनियां आती है और IIT से पढ़े हुए बच्चों को नौकरी देती हैं.साथ ही उन्हें बहुत अच्छे पैसे भी देती है.

IIT पास हुए बच्चों को पढ़ कर निकलने के बाद सबसे अच्छे कंपनी में नौकरी मिलती है. जब अच्छी कंपनी में जॉब मिल जाता है तो आप समझ सकते होंगे की पैसे भी अच्छे मिलते हैं. हाल ही में एक IIT ian को सबसे ज्यादा 93 लाख साल का पैकेज मिला था वो भी फ्रेशर को, क्यूंकि फ्रेशर को इतनी सैलरी मिलना नामुमकिन होता है. इसको मुमकिन सिर्फ IIT के छात्र ही कर सकते हैं.

तो अब आप समझ सकते हैं की कौन ऐसे माँ बाप नहीं होंगे जो अपने बच्चे को सफल देखना न चाहते हो. इसके लिए अच्छे से अच्छे एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में पढ़ा कर IIT में एडमिशन करवाना चाहते हैं.

सुपर 30 की खास उपलब्धि ( सुपर 30 पर मूवी)

वैसे तो अगर मैं सुपर 30 के बारे मे बताऊँ की सुपर 30 ने क्या क्या achieve किया है, तो ये बताना शुरू करूँ तो बस उपलब्धियों के ऊपर ही लिखना पड़ जायेगा. क्यों की achievements' ही इतना ज्यादा है की गिनना मुश्किल है. हर साल ये इंस्टिट्यूट कुछ नए नए करनामें करता है. 

जिससे इसकी छवि और भी मजबूत होती जा रही है. 2009 में Limca Book of world record में नाम दर्ज हो चूका है.अभी सबसे ख़ास बात ये है की सुपर 30 के ऊपर बहुत जल्द एक फिल्म रिलीज़  हो चुकी है , जिसमे श्री आनंद कुमार का किरदार सुपर स्टार Hrithik Roshan sir निभा रहे हैं.

तो दोस्तों अब आप अच्छे से समझ गए होंगे की सुपर 30 क्या है (What is Super 30 in Hindi), इसको इतना महत्व क्यों दिया जाता है. साथ ही ये भी जाना की super 30 admission eligibility क्या है यानि इसमें एडमिशन कैसे ले सकते हैं. आपको ये लेख कैसा लगा अगर ये पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे. 

अन्य पढ़े .. 

अमेजॉन का इतिहास

होंडा कंपनी का इतिहास

Post a Comment

Previous Post Next Post