मिस इंडिया चाय सेरिमनी का इतिहास हिन्दी मे miss india chai ceremony ka itihas in hindi

 

आखिर कैसे एक गरीब आटो रिक्शा चालक की बेटी बनी वर्ल्ड ब्रांड जो मिस इंडिया के नाम से प्रसिद्ध हुई पूरे देश मे और वो महान लेडी कौन हैं कहाँ की हैं कैसे रचा उसने इतिहास और क्यों बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड आखिर उसके सपने क्या थे फुल जानकारी हिन्दी मे स्टेप बाइ स्टेप आदिक जानकारी के लिए आगे पढ़े /

https://www.earnbazar.co.in/2021/09/miss.india.chai.ceremony.ka.itihas.in.hindi....html


मिस इंडिया चाय सेरिमनी का इतिहास

मिस इंडिया चाय सेरिमनी अपने आपमे एक ब्रांड हैं जो साउथ इंडिया की महान एवं खूबसूरत एक्टर्स मिस क्रीती सुरेश इस स्टोरी की किरदार हैं और इस स्टोरी के डायरेकटर मिस्टर नरेंद्रनाथ जी हैं उन्होंने इस स्टोरी को एक फिल्म के रूप मे 4 नवम्बर 2020 को टेलगु भाषा मे नेटफलिक्स पर रिलीज किया

इस फिल्म स्टोरी को लोगों ने काफी अच्छा पसंद किया और फिर इसे 4 जुलाई 2021 को हिंदी भाषा मे डबिंग किया गया इसके बाद इसका रिव्यू एक महीने मे करीब 100 मिलियन तक पहुच गया यह फिल्म स्टोरी साउथ फिल्मों मे सबसे अधिक देखे जाने वाली मे से एक हैं

मिस इंडिया के किरदार का परिचय  

मिस इंडिया के किरदार मिस क्रीती सुरेश का जन्म 17 अक्टूबर 1992 को मद्रास तमिलनाडु मे हुआ था इनके पिता का नाम सुरेश कुमार था जो एक फिल्म प्रोड्यूसएर थे और इनकी माता का नाम मेंक था जो साउथ इंडिया की प्रसिद्ध एकटर्स थी और इनकी बहन मिस रेवती सुरेश एक VFX स्पेसलिस्ट हैं

मिस क्रीती सुरेश एक चाइल्ड एक्टर्स हैं इन्होंने फिल्म इंडस्ट्री से बहुत सारे अवार्ड रिवार्ड अचिव किया तथा घर के सभी लोग फिल्म इंडस्ट्री मे होने के कारण इन्होंने इस गुण को और कला को बहुत ही जल्द सीख लिया था इनकी पढ़ाई लिखाई केन्द्रीय विद्यालय पट्टम तिरुवनंतपुरम मे BA फैशन डिजाइनइंग की पढ़ाई पूरी हुई

इनका फेवरेट फूड डोसा

इनकी पसंदीदा फिल्म हैं जिंदगी न मिलेगी दोबारा

मिस इंडिया चाय सेरिमनी की स्टोरी

यह स्टोरी एक मध्यवरगिए परिवार मे रहने वाली और बड़े लक्ष्यों सपनों को देखने वाली एक ऐसी महिला की हैं जिनका नाम मिस मानसा समयुक्ता हैं जो अपने जिंदगी मे कभी हार न मानने वाली महिला हैं मिस मानसा संमयुक्ता का जन्म विशाखापट्टनम के एक छोटे से गाँव लंभासिंघी मे हुआ था

इनका पालन पोषण लंभासिंघी मे ही हुआ इनका एक परिवार था जिसमे माता पिता भाई बहन और दादा जी थे तथा मानसा संमयुक्ता के दादा एक आयुर्वेद डाकटर थे वे अपने पेसेन्ट को कुछ जड़ी बूटियों से बहुत ही अच्छी व टेस्टी चे बनाकर पिलाते थे इस चाय को पीते ही पेसेन्ट एकदम चंगा हो जाता था

मानसा संमयुक्ता के पिता एक कैफे मे वर्कर थे जिससे उनके घर का खर्च चलता था और अचानक मानसा संमयुक्ता के पिता अल्ज़ाइमेर नामक भयंकर बीमारी के शिकार हो जाते हैं और डाक्टर उन्हे कामकाज करने से मना करते हैं इस बात को सुनकर घर के सभी लोगो के चेहरे उतर जाते हैं

और वे बहुत ही दुखी हो जाते हैं लेकिन फिर भी किसी तरह मैनेज करते हैं और कुछ समय बाद घर की स्थित बहुत ही खराब हो जाती है तब तक भाई अर्जुन के M TECH की पढ़ाई पूरी हो जाती हैं और उन्हे यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका से एक टेक्निकल एंजीनीयरिंग जॉब का प्रस्ताव आता हैं

इसी बीच मानसा संमयुक्त की बहन सहाना लव मैरेज करके घर से निकल जाती हैं और अब बचे हुए लोग यानि की मानसा संमयुक्ता और उनके भी अर्जुन तथा माता पिता ये सभी लोग मिलकर दादा को अमेरिका जाने के लिए कहते हैं लेकिन वे इससे सहमति नहीं होते हैं तो ये लोग दादा जी को छोड़कर

अमेरिका जाने के लिए तैयार होते हैं लेकिन दादा जी इस सदमे को सहन नहीं कर पाते हैं और हार्ट अटैक से वे स्वर्ग सिधार जाते हैं अब सभी लोग उनका दाह संस्कार करके अमेरिका चले जाते हैं और वहाँ सभी लोग मिस मानसा संमयुक्त को नौकरी करने के लिए फोर्स करते हैं लेकिन वे इस बात

सहमति नहीं होती हैं और कहती हैं की वह अपनी MBA की पढ़ाई पूरी करने के बाद बिजनेस करेगीइस बात से घर के सभी लोग विरोध करते हैं और कहते हैं की हम उनलोगों मे से नहीं हैं जो बिजनेस कर सके लेकिन मानसा संमयुक्ता नहीं मानती हैं और अपने जिद पर अड़ी रहती हैं

और इसके चलते घर के सभी लोग उनसे दूर हो जाते हैं और इस दौरान उन्हे अमेरिका मे काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं मानसा संमयुक्ता अपनी MBA की पढ़ाई पूरा करने के बाद अमेरिका मे ही इंडियन चाय सेरिमनी के नाम से अमेरिका के फुटपाथ रोड्साइड पर एक टी स्टाल

खोला लेकिन कुछ समय बाद अमेरिका के पुलिस से तंग आकर इस टीस्टाल को बंद कर दिया और फिर कुछ समय बाद मानसा संमयुक्त ने एक इन्वेस्टर को ढूंढ निकाला और फिर मिस इंडिया चाय सेरिमनी के नाम से एक बड़ा होटल खोला और काफी लोगों को इन्वाइट किया की वे मिस इंडिया चाय सेरिमनी

के इस प्रोग्राम मे हिस्सा ले इस इनविटेशन को काफी लोगों ने स्वीकार किया और मिस इंडिया चाय सेरिमनी प्रोग्राम मे भाग लिया मानसा संमयुक्ता आए हुए मेहमानों को मिस इंडिया चाय सेरिमनी की स्पेशल एवं स्वादिष्ठ चाय पिलाया तथा चाय पिलाने के बाद आए हुए मेहमानों से मानसा संमयुक्ता ने

निवेदन किया की यदि आपको हमारी चाय पसंद हो तो अपने पड़ोसियों रिस्तेदारों आदि लोगों को हमारे मिस इंडिया चाय सेरिमनी के बारे बताए इन सभी बातों को ध्यान मे रखते हुए आए हुए मेहमानों ने कफी अच्छा परिणाम दिया और सभी लोग इससे सहमति हुए इस प्रकार देखते ही देखते मिस इंडिया चाय सेरिमनी ब्रांड आसमान की ऊंचाइयों को छूने लगी लेकिन दुर्भाग्य से एक दूसरे प्रतिद्वंदी कैलाश ने मानसा संमयुक्ता की सहेली तथा मिस इंडिया चाय सेरिमनी की मनेजेर  मिस पद्मनना के साथ

मिलकर एक साजिश रची जिसके कारण मिस इंडिया चाय सेरिमनी ब्रांड को काफी नुकसान हुआ और वह घाटे मे आ गई इसके चलते मिस इंडिया चाय सेरिमनी के सारे कर्मचारीकुछ समय के बाद वेतन न मिलने के कारण भाग गए और अब वहाँ पर मिस मानसा संमयुक्ता और इयनकी फ्रेंड प्रीति तथा एक और कर्मचारी मात्र 3 लोग ही बचे हुए थे

और सभी अपने अपने घर चले गए इस समस्या को देखते हुए मानसा संमयुक्ता ने इसका समाधान ढूंढ निकाल और अपने कंपनी का शेयर बेचना शुरू कर दिया इस प्रकार देखते देखते फिर से मिस इंडिया ब्रांड को अरबों  खरबों डालर बिजनेस करने के लिए मिल गए और फिर इस प्रकार उन्होंने मिस इंडिया चाय सेरिमनी को स्टार्ट कर दिया और मानसा संमयुक्ता भी अर्जुन और माता पिता भी मिल गए वे सभी एक साथ रहने लगे

तो दोस्तों वास्तव मे यह फिल्म स्टोरी से हमे सीख मिलती हैं कि कुछ भी हो जाए पर हिममत न हारो तो आप कुछ भी कर सकते हो आप जो भी पाना चाहते हो आपके जो भी गोल हैं जो भी लक्ष्य हैं वे आपको मिल सकते हैं

नोट: तो दोस्तों यदि आपको इस पोस्ट से को पढ़ने मे मजा आया हो तो तो इसे लाइक शेयर और सुबस्क्राइब जरूर करे धन्यवाद ॥ 

अन्य पढ़े .. 

होंडा कंपनी के संस्थापक का इतिहास  

  

Post a Comment

Previous Post Next Post